Saturday, October 3, 2015

The endless wait - एक अंतहीन इंतजार


किसी को इत्ना भी रुका के ना रखो,
की उस्का दिल टूट जाये
वो तुम्हे ही नही छोड़ के चला जयेगा,
वो खुद की खुशियो से मूह मोड़ लेगा
खुद का दिल भले पत्थर बन चुका हो,
किसी और का दिल शायद तुम्हारे प्यार की राह देख रहा है
उस्का दिल तुम्हरी अवाज सुन्ने को बेकरार है
मत तोड़ो उस्के दिल को!
वो खुद की खुशियो से मूह मोड़ लेगा,
वो जीते जी मर जयेगा